Header Ads

 CORONA, CORONA, COVID-19,

Breaking News

बाजार खुलते ही निवेशकों के डूब गए 7 लाख करोड़ रुपए, सेंसेक्स 2600 अंक डूबा

नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपए का 76 तक नीचे आना, क्रूड ऑयल की कीमतों में गिरावट से आई विदेशी बाजारों में गिरावट, कोरोना वायरस का असर और बीते दिनों सेबी की ओर से किए बदलावों की वजह से शेयर बाजार आज भारी गिरावट के साथ खुला। बांबे स्टॉक एक्सचेंज में 2600 अंकों की गिरावट के साथ खुला और निवेशकों के एकसाथ 7 लाख करोड़ रुपए डूब गए। निफ्टी 8 हजार के नीचे के स्तर पर चला। ऑयल कंपनियों बीपीसीएल और ओएनजीसी के शेयरों में भारी गिरावट देखने को मिल रही है। ऑयल सेक्टर के अलावा ऑटो सेक्टर बड़ी गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। बैंकिंग और एफएमसीजी सेक्टर में भी बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना वायरस ने बंद कराई करेंसी की छपाई, 31 मार्च तक बंद नासिक करेंसी प्रेस

बाजार में 2600 अंकों की गिरावट
बाजार में 2600 अंकों की गिरावट से हाहाकार मचा हुआ है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 2612.68 अंकों की गिरावट के साथ 27303.28 अंकों पर कारोबार कर रहा है। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 755.80 अंकों की गिरावट के साथ 7989.65 अंकों पर कारोबार कर रहा है। बीएसई स्मॉल कैप 622.69, बीएसई मिड-कैप 714.69 और विदेशी निवेशकों का इंडेक्स सीएनएक्स मिडकैप 842 अंकों की गिरावट पर है।

यह भी पढ़ेंः- Janta Curfew के एक दिन बाद जानिए क्या हैं पेट्रोल आैर डीजल के दाम

सेक्टोरल इंडेक्स लाल
आज सेक्टोरल इंडेक्स में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। बैंक एक्सचेंज 1863.12 और बैंक निफ्टी 1605.90 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। बीएसई ऑटो 951.64, कैपिटल गुड्स 825.34, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स 1327.86, बीएसई एफएमसीजी 575.76, बीएसई हेल्थकेयर 409.77, बीएसई आईटी 832.84, बीएसई मेटल 406.76, तेल और गैस 852.82, बीएसई पीएसयू 305.05, बीएसई टेक 409.12 अंकों की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः- देश को Cleanest Petrol and Diesel देने वाली पहली कंपनी बनी Indian Oil

ऑयल और गैस कंपनियों में बड़ी गिरावट
आज ऑयल और गैस कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन 11.58 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। वहीं ओएनजीसी 11.20 फीसदी की गिरावट के साथ है। एक्सिस बैंक, आईटीसी और यूपीएल के शेयरों में 10 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। वहीं फॉर्मा कंपनी डॉ. रेड्डी लेबोरेटरीज इकलौती कंपनी है जो करीब 4 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः- एक सप्ताह में सोने के दाम में 900 रुपए का इजाफा, चांदी हुई 3660 रुपए सस्ती

एक मिनट में करीब 7 लाख करोड़ रुपए का नुकसान
शुक्रवार को जो रिकवरी पूरे दिन में निवेशकों ने हासिल की थी वो आज बाजार खुलते ही गंवा दी। शुक्रवार को बीएसई का मार्केट कैप 1,16,09,143.29 करोड़ रुपए पर बंउ हुआ था। जब सोमवार यानी आज बाजार खुला तो मार्केट कैप 1,09,25,220.73 करोड़ रुपए पर आ गया। अगर दोनों दिनों के मार्केट कैप के अंतर को देखें तो करीब 7 लाख करोड़ रुपए बन रहा है। यही निवेशकों का नुकसान है।

यह भी पढ़ेंः- Coronavirus Impact : सोमवार से बैंकों में जारी रह सकती है सिर्फ चार सुविधाएं

डॉलर के मुकाबले 76 रुपए नीचे हुआ डॉलर
शुक्रवार को 75 रुपए का स्तर छूने के बाद आज रुपया 76 रुपए के पार चला गया है। यह रुपए में ऐतिहासिक गिरावट है। जिसकी वजह से विदेश से आने वाला सामान महंगा होगा, विदेशों में पढ़ाई करना महंगा हो जाएगा। साथ भारत के इंपोर्ट बिल में इजाफा हो जाएगा। मौजूदा समय में रुपया डॉलर के मुकाबले 1.38 फीसदी की गिरावट के साथ 76.24 रुपए प्रति डॉलर पर कारोबार कर रहा है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2QEk4Jt

No comments