Header Ads

 CORONA, CORONA, COVID-19,

Breaking News

आज वरीयान योग के साथ लग रहा है शुभ नक्षत्र, राशिनुसार ये उपाय करने से हर काम में मिलेगी सफलता

Variyan Yoga Purvashada Nakshatra 

चैत्र कृष्ण पक्ष की दशमी तिथि और बुधवार का दिन है। दशमी तिथि आज का पूरा दिन पार करके अगले दिन भोर 4 बजकर 27 मिनट तक रहेगी। उसके बाद एकादशी तिथि लग जाएगी। आज दोपहर पहले 11 बजकर 47 मिनट तक वरीयान योग रहेगा। वरीयान योग में कोई मंगलदायक कार्य करना अच्छा माना जाता है। इस दौरान किये गये कार्य में निश्तिच ही सफलता मिलती है। साथ ही आज दोपहर 1 बजकर 1 मिनट तक पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र रहेगा। नक्षत्रों की श्रेणी में पूर्वाषाढ़ा 20वां नक्षत्र है। पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के स्वामी शुकाचार्य हैं। साथ ही इस नक्षत्र में जल की उपासना भी बतायी गई है और जल के देवता वरूण देव हैं। अतः आज के दिन जल के व्यर्थ उपयोग से वरूण देव का दोष लगता है 

अगर राशि की बात करें तो पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र की राशि धनु है। इस नक्षत्र के चारों चरण धनु राशि में आते हैं। इसका प्रतीक चिन्ह हाथ के पंखे को माना जाता है। इसे राजस्थान में सूपड़े के नाम से भी जाना जाता है, जबकि इसका संबंध जलवेतस के पेड़ से बताया गया है। जलवेतस को केन के नाम से भी जाना जाता है, इसे फर्नीचर आदि बनाने के काम में लिया जाता है। पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में जन्मे जातको या जिनकी राशि धनु है, उन लोगों को आज के दिन पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में जलवेतस, यानी केन के पेड़ की उपासना करनी चाहिए, हो सके तो उसकी जड़ में पानी डालना चाहिए और साथ ही इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आज के दिन आप जलवेतस, यानी केन के पेड़ को किसी प्रकार की क्षति न पहुंचाएं, इसकी लकड़ियों को न तोड़ें और न ही इसे किसी प्रकार के इस्तेमाल में लें। 

इसके अलावा आज दोपहर 3 बजकर 46 मिनट से शुरू होकर अगले दिन की भोर 4 बजकर 27 मिनट तक भद्रा रहेगी। आप जानते ही होंगे कि- अशुभ भद्रा के दौरान विवाह संस्कार, मुण्डन संस्कार, गृह-प्रवेश, यज्ञोपवित, नया बिजनेस आरंभ, किसी शुभ कार्य के लिये यात्रा, त्योहार आदि के समय किये जाने वाले रिति-रिवाज आदि नहीं करने चाहिए। हालांकि कुछ ऐसे कार्य भी हैं, जिन्हें भद्रा के दौरान करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं। किसी पर मुकदमा करने के लिये, शत्रु पक्ष से मुकाबले के लिये, राजनीतिक कार्य़ के लिये, सीमा पर युद्ध के लिये, ऑप्रेशन के लिये, अग्नि से संबंधित कार्य, किसी भी तरह के वाद-विवाद के लिये, शस्त्र आदि के प्रयोग के लिये, पशु संबंधी कार्यों के लिये, वाहन खरीदने के लिये, दाम्पत्य संबंधों की ऊष्मा को बनाये रखने के लिये और तंत्र-मंत्र के प्रयोग के लिये भद्रा बड़ी ही प्रशस्त मानी जाती है।

बता दें कि जिस दिन चन्द्रमा मेष, वृष, मिथुन या वृश्चिक राशि, साथ ही कन्या, तुला, धनु या मकर राशि में होता है, तब भद्रा का कोई प्रभाव पृथ्वी लोक पर रहने वाले लोगों पर नहीं पड़ता, क्योंकि स्वर्ग लोक की भद्रा का मुख उर्ध्वमुखी, यानी ऊपर की तरफ होता है और पाताल लोक की भद्रा का मुख अधोगामी, यानी नीचे की तरफ होता है। भद्रा जिस भी लोक में स्थित होती है, केवल वहीं मूलरूप से प्रभावी रहती है और आज चन्द्रमा मकर राशि में है। लिहाजा आज के भद्रा का प्रभाव आप पर नहीं पड़ेगा। 

आज वरीयान योग, पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र और भद्रा एक साथ है। जानें आचार्य इंदु प्रकाश से राशिनुसार क्या उपाय करना होगा शुभ। 

मेष राशि

राशि वालों यदि आपको बहुत ज्यादा मेहनत करने के बाद भी सफलता हासिल नहीं होती है, तो  आज के दिन गणेश जी के मंदिर जाकर 4 नारियल माला में पिरोकर चढ़ाएं और उनसे अपना संकट दूर करने की प्रार्थना करें। आज के दिन ऐसा करने से समय के साथ-साथ आपके सारे काम अपने आप बन जाएंगे। वैसे तो ये उपाय मेष राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं। 

वृष राशि 
यदि आप अपनी प्रोफेशनल जिदंगी में सफलता पाना चाहते है या फिर आपका इंटरव्यू क्लियर नहीं हो पा रहा है, परीक्षा में सफलता हासिल नहीं हो पा रही है तो आप आज के दिन कच्चे सूत में 7 गांठ लगाकर जय गणेश, काटो क्लेश मंत्र का जाप करते हुए भगवान गणेशजी को समर्पित कर दें। उसके बाद उस धागे को अपने पर्स में रखें। आज के दिन ऐसा करने से इंटरव्यू तथा परीक्षा में सफलता प्राप्त होगी।  वैसे तो ये उपाय वृष राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं|

राशिफल 18 मार्च: मिथुन राशि के जातकों को बिजनेस में होगा अचानक लाभ, जानें अन्य राशियों का हाल

मिथुन राशि 
अगर आपके जीवनसाथी का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता और वो जल्दी- जल्दी बीमार पड़ जाते हैं, तो अपने जीवनसाथी के अच्छे स्वास्थ्य के लिये आज के दिन पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र के दौरान एक कटोरी में जौ को पीसकर बनाया गया सत्तु लेकर, उस पर अपने जीवनसाथी के हाथों का स्पर्श कराकर मन्दिर या किसी धर्मस्थल पर दान कर दें। आज के दिन ऐसा करने से आपके जीवनसाथी का स्वास्थ्य ठीक रहने लगेगा।  वैसे तो ये उपाय मिथुन राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

वास्तु टिप्स: नया फ़्लैट लेने से पहले सुनिश्चित कर लें किस दिशा में खुलती हैं खिड़कियाँ

कर्क राशि 
अगर आप अपनी बिजनेस संबंधी किसी डील को लेकर परेशान हैं और उसकी वजह से आप किसी अन्य काम में अपना मन नहीं लगा पा रहे हैं, तो आज के दिन गाय का घी लेकर देवी लक्ष्मी के मन्दिर में दान करें और दोनों हाथों से माता के पैर छूकर आशीर्वाद लें। आज के दिन ऐसा करने से आपकी बिजनेस संबंधी डील में चल रही परेशानी का हल निकलेगा और आप अपना काम बेहतर ढंग से कर पायेंगे। वैसे तो ये उपाय कर्क राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

सिंह राशि 
अपने दाम्पत्य संबंधों की मजबूती को बरकरार रखने के लिये आज के दिन अपने जीवनसाथी के साथ किसी साफ पानी के स्त्रोत, किसी नदी, तालाब या पोखर के पास जाएं और वहां जाकर, उस स्त्रोत के जल को दोनों हाथों में लेकर, वरूण देव का ध्यान करते हुए और अपने रिश्ते की मजबूती के लिये भगवान से प्रार्थना करते हुए, जल को धीरे-धीरे करके वापस उसी पानी के स्त्रोत में डाल दें, लेकिन अगर आपका जीवनसाथी किसी काम में व्यस्त है या आपसे कहीं दूर है, तो आप स्वयं ही साफ पानी के किसी स्त्रोत के पास जाकर अपने और अपने जीवनसाथी के निमित्त यह उपाय कर सकते है। अगर आप किसी ऐसी जगह पर न जा पायें, तो घर पर ही नल का साफ पानी लेकर, उत्तर दिशा की तरफ मुंह करके, वरूण देव का ध्यान करते हुए ये उपाय करें। आज के दिन ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों की मजबूती हमेशा बरकरार रहेगी।  वैसे तो ये उपाय सिंह राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

कन्या राशि 
अगर आप अपने घर की सुख-समृद्धि को बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन अपने घर के मन्दिर में माता लक्ष्मी के आगे घी का दीपक जलाएं और उनसे हाथ जोड़कर अपने घर की सुख-समृद्धि के लिये प्रार्थना करें। साथ ही देवी मां को पुष्पांजलि भी अर्पित करें। आज के दिन ऐसा करने से आपके घर की सुख-समृद्धि में इज़ाफा होगा। वैसे तो ये उपाय कन्या राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

तुला राशि 
अगर आपको लगता है कि आपके दाम्पत्य जीवन को किसी की बुरी नजर लग गई है और अब आपके जीवन में पहले जैसा प्यार नहीं रहा, तो नजर दोष से बचाव के लिये आज के दिन एक मिट्टी के दिये में दो कपूर की टिकिया लेकर जलाएं और उससे पूरे घर में धूप दिखाएं। धूप दिखाने के बाद उस जलते हुए दिये को अपने घर के बाहर रख आयें। आज के दिन ऐसा करने से आपके दाम्पत्य संबंधों को लगी बुरी नजर हटेगी और आप दोनों के बीच फिर से प्यार बहाल होगा।  वैसे तो ये उपाय तुला राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

वृश्चिक राशि 
अगर आपके जीवन में परेशानियां का अम्बार लग गया है और आप उनसे बाहर नहीं निकल पा रहे हैं तो ऐसे में परेशानियों से छुटकारा पाने के लिये आज के दिन से शुरू करके अगले पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र तक यानि 14 अप्रैल तक एक नीले रंग का फूल लेकर घर के बाहर किसी गंदे नाले में बहा दें। इस तरह ये उपाय करने से आपके जीवन की सारी परेशानियों का अंत होगा।  वैसे तो ये उपाय वृश्चिक राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

धनु राशि 
जीवन के हर क्षेत्र में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिये आज के दिन आपको जलवेतस, यानी केन के पेड़ को नमस्कार करना चाहिए, उसकी उपासना करनी चाहिए और उसकी जड़ में पानी डालना चाहिए। साथ ही इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आज के दिन आप जलवेतस, यानी केन के पेड़ को, उसकी लकड़ियों को या उसकी लकड़ी से बने फर्नीचर को किसी भी प्रकार की क्षति न पहुंचाएं। अगर उपासना के लिये आपको जलवेतस, यानी केन का पेड़ न मिले तो इंटरनेट से उसकी फोटो डाउनलोड करके, उसके दर्शन कर लें। इससे आज आपका पूरा दिन अच्छा बीतेगा और आपको जीवन के हर क्षेत्र में जीत हासिल होगी। वैसे तो ये उपाय धनु राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं। 

मकर राशि 
अगर आप अपने परिवार के साथ रिश्तों को और मजबूत करना चाहते हैं, तो रिश्तों में मजबूती लाने के लिये आज के दिन दही का कुछ बनाकर, पहले अपने ईष्टदेव को भोग लगाएं, उसके बाद प्रसाद के रूप में वह परिवार के सब सदस्यों में बांट दें। अगर आप दही का कुछ न बना पाएं, तो केवल दही लेकर, उसमें थोड़ा-सा मीठा डालकर अपने ईष्टदेव को भोग लगाएं और बाद में उसे परिवार के सब सदस्यों में बांट दें। साथ ही स्वयं भी थोड़ा-सा प्रसाद ग्रहण कर लें। आज के दिन ऐसा करने से परिवार के सदस्यों के साथ आपके रिश्ते और भी मजबूत होंगे। वैसे तो ये उपाय मकर राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं।

कुंभ राशि 
अगर आप अपने करियर को एक बेहतर दिशा देना चाहते हैं, तो उसके लिये आज के दिन एक नया मिट्टी का बर्तन लेकर, उसमें पानी भरकर किसी मन्दिर में या किसी सुपात्र ब्राह्मण के घर दान कर दें। आज के दिन ये उपाय करने से आप अपने करियर को एक बेहतर दिशा देने में सफल होंगे।  वैसे तो ये उपाय कुम्भ राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं। 

मीन राशि 
अगर आपके घर में काफी दिनों से लक्ष्मी का आगमन नहीं हो रहा है और आपको आर्थिक तंगी से दो-चार होना पड़ रहा है, तो आज के दिन माता महालक्ष्मी की आराधना करें और उनके इस मंत्र का जाप करें। मंत्र है-ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नमः..लेकिन अगर आपको इस मंत्र को बोलने में किसी प्रकार की कठिनाई हो, तो आप आज के दिन केवल “श्रीं ह्रीं श्रीं’ मंत्र का जाप भी कर सकते हैं। क्योंकि लक्ष्मी का एकाक्षरी मंत्र तो “श्रीं” ही है । अतः आज के दिन माता महालक्ष्मी के इस मंत्र का जाप करने से आपके घर में लक्ष्मी का आगमन होगा और आपको आर्थिक तंगी से मुक्ति मिलेगी।  वैसे तो ये उपाय मीन राशि वालों के लिये ये विशेष फलदायी है। लेकिन आज की ग्रह और नक्षत्र स्थिति के अनुसार सभी राशि वाले लोग कर सकते हैं। 

.



from India TV: lifestyle Feed https://ift.tt/2Uffn9R

No comments