On This Day : विश्व कप के दौरान कोच की मौत से जब क्रिकेट की दुनिया में मच गया था भूचाल - Businessvistar.com

Header Ads

Breaking News

On This Day : विश्व कप के दौरान कोच की मौत से जब क्रिकेट की दुनिया में मच गया था भूचाल

Bob Woolmer Image Source : GETTY

18 मार्च 2007 के दिन को क्रिकेट के इतिहास में कभी नहीं भूला जा सकता है। इस साल वेस्टइंडीज में 9वां क्रिकेट विश्व कप खेला जा रहा था लेकिन यह विश्व कप भारत और पाकिस्तान के लिए कड़वी यादें लेकर आई। सबसे पहले तो यह कि दुनिया की यह दो मजबूत टीमें लीग स्टेज में ही बांग्लादेश और आयरलैंड जैसी कमजोर टीमों से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी, जिसके कारण विश्व कप का रंग ही फीका पड़ गया।

इस विश्व कप में कुल 16 देशों ने हिस्सा लिया था। दुनिया की टॉप 10 टीमों के अलावा केन्या, कनाडा, बरमूडा, आयरलैंड, स्कॉटलैंड और नीदरलैंड शामिल थीं। सभी टीमों को 4-4 के चार ग्रुपों में बांटा गया।

हालांकि टूर्नामेंट में असल भूचाल तब आया जब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच बॉब वूल्मर अपने होटल के कमरे में संदिग्ध अवस्था में मृत पाए गए। दरअसल माना जाता है कि लीग स्टेज में पाकिस्तान को आयरलैंड से मिली करारी हार के कारण उन्हें गहरा सदमा लगा था जिसके कराण वह मौत की आगोश में चले गए। 

यह हादसा वेस्टइंडीज के जमैका में हुआ था। वूल्मर की इस तरह अचानक मौत के बाद यह भी कहा जाने लगा कि उनकी हत्या की है लेकिन पुलिस के द्वारा किए महीनों तक की छानबीन के बाद भी जब कोई सुराह नहीं मिला तो इसे नैचुरल डेथ करार दे दिया गया। 

बातौर कोच वूल्मर

वूल्मर ने अपनी कोचिंग की शुरुआत साउथ अफ्रीका से की थी। सबसे पहले उन्होंने साउथ अफ्रीका की जूनियर क्रिकेट टीम को कोचिंग प्रदान किया था। यहां वह तीन साल तक रहे और इसके बाद वापस अपने देश इंग्लैंड लौट आए।

इसके बाद उन्होंने अपने देश के घरेलू क्रिकेट काउंटी में वॉर्कविशायर की टीम को बातौर कोच अपनी सेवाएं दी। हालांकि वूल्मर साल 1994 में पहली बार किसी इंटरनेशनल टीम को कोचिंग प्रदान की और यह टीम साउथ अफ्रीका की थी।

साउथ अफ्रीका को उन्होंने 5 साल तक कोचिंग दी। इसके बाद साल 2004 में उनकी नियुक्ति पाकिस्तान क्रिकेट के मुख्य कोच के तौर पर हुई। यहां वह तीन साल तक ही अपनी सेवाएं दे पाए और साल 2007 में विश्व कप के दौरान उनकी मृत्यु को गई।

वूल्मर का क्रिकेटिंग करियर

इंग्लैंड के बॉव  वूल्मर का क्रिकेटिंग करियर कुछ खास बड़ा नहीं था। वे इंग्लैंड के लिए 19 टेस्ट और 6 वनडे मैचों में टीम का प्रतिनिधित्व किए। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 34 पारियों में 1059 रन बनाए थे जिसमें  तीन शतक और 2 अर्द्धशतक शामिल था। इसके अलावा इस फॉर्मेट में उन्होंने 4 विकेट भी लिए हैं। वहीं वनडे क्रिकेट में वह सिर्फ 21 रन ही बना पाए थे।

इसके अलावा वूल्मर 350 फर्स्ट क्लास और 290 लिस्ट ए मैच भी खेले थे। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में वूल्मर ने 15772 रन बनाए हैं जिसमें 71 अर्द्धशतक और 34 शतक शामिल है। वहीं लिस्ट ए में उन्होंने 4078 रन बनाए।

 

from India TV: sports Feed

No comments