विराट कोहली ने शेयर किया अपने वर्कआउट का नया वीडियो, कहा 'इसे कमाए, इसकी मांग ना करें' - Businessvistar.com

Header Ads

Breaking News

विराट कोहली ने शेयर किया अपने वर्कआउट का नया वीडियो, कहा 'इसे कमाए, इसकी मांग ना करें'

Virat Kohli shares new video of his workout, says 'earn it, don't demand it' Image Source : TWITTER/VIRAT KOHLI

भारतीय कप्तान विराट कोहली जिन्हें टीम इंडिया का फिटनेस आइकन मानते हैं उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने वर्कआउट का एक नया वीडियो पोस्ट किया है। कोरोनावायरस महामारी की वजह से देशभर में लगे लॉकडाउन के बीच विराट कोहली ने यह वीडियो पोस्ट कर अपने फैंस को नया फिटनेस गोल दिया है। देशभर में इस समय लॉकडाउन का चौथा चरण लागू किया गाय है। इस महामारी की वजह से आम जनता की तरह क्रिकेटर भी घर पर रहने के लिए मजबूर हैं।

विराट कोहली ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा 'इसे कमाए, इसकी मांग ना करें।' लॉकडाउन में भारतीय कप्तान का यह वीडियो फैन्स और अन्य खिलाड़ियों को घर पर फिट रने के लिए प्रेरित करेगा। 

View this post on Instagram

Earn it. Don't demand it.

A post shared by Virat Kohli (@virat.kohli) on

बता दें, हाल ही में बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल ने भी विराट कोहली की फिटनेस की तारीफ की थी और उन्हें फिटनेस आइडल भी बताया था। तमीम का कहना था कि पहले क्रिकेटर्स फिटनेस के लिए दूसरे एथलीट्स को देख कर प्रेरित होते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है।

विराट कोहली के साथ फेसबुक लाइव पर तमीम ने कहा था "एक समय था जब हम दूसरे खेलों के एथलीटों को देखते थे वे कितने फिट हैं या कितने अनुशासित हैं। लेकिन अब मैं गर्व से कह सकता हूं कि हमारा अपना क्रिकेट परिवार है, जो आप हैं। हमारा मनोरंजन करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।" 

ये भी पढ़ें - राजनीति में अपनी जगह बनाने के लिए भारत के खिलाफ जहर उगल रहे हैं अफरीदी - विराट कोहली के बचपन के कोच

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपनी इस फिटनेस के पीछे कोच शंकर बासु का बहुत बड़ा हाथ बताया। भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव चैट करते हुए उन्होंने कहा था "ये ( फिटनेस ) मेरे लिए सब कुछ है। लेकिन इसका क्रेडिट मैं नहीं लेना चाहूँगा। हाँ आप मेहनत करते हो लेकिन कोई आपके पीछे होता है जो आपको निर्देश देता है। इसलिए मेरे करियर को एक स्तर से दूसरे स्तर तक ले जाने में फिटनेस एक काफी बड़ा फैक्टर रही है। ये सबकुछ मिस्टर शंकर बसु के चलते संभव हो पाया है। वो तब आरसीबी के ट्रेनर थे और बाद में टीम इंडिया के भी ट्रेनर बने। सभी उन्हें पसंद करते हैं।“

कोहली ने आगे कहा था, 'मुझे याद है साल 2015 में वो मेरे पास आए और उन्होंने कहा कि मैं तुम्हे लिफ्टिंग के बारे में बताता हूँ। मैं डर गया था क्योंकि मुझे पहले से ही पीठ में समस्या थी। जिसके बाद उन्होंने मुझसे भरोसा रखने को कहा और बोले की फिटनेस तुम्हारे क्रिकेट को बदल देगी। इसके बाद जब रिजल्ट मिलना शुरू हुए तब मुझे सच में अहसास हुआ कि यही सबकुछ है।"

ये भी पढ़ें - गेंद को चमकाने के लिए सिर्फ लार बैन किए जाने पर हरभजन सिंह ने सुझाया ये नया प्लान

इतना ही नहीं कोहली ने अंत में अपने वीगन बनने के बारे में कहा, "ये काफी शानदार है और लगभग दो साल हो चुके हैं। मुझे लगता है कि ( नॉन वेज छोड़ना ) मेरे जीवन का सबसे अच्छा निर्णय है। मुझे इस और पहले ही ले लेना चाहिए था।"

 



from India TV Hindi: sports Feed

No comments