सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर किए जाने पर मोहम्मद आमिर और हसन अली ने छोड़ा पीसीबी का व्हाट्सएप ग्रुप - Businessvistar.com

Header Ads

Breaking News

सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर किए जाने पर मोहम्मद आमिर और हसन अली ने छोड़ा पीसीबी का व्हाट्सएप ग्रुप

Mohammad Amir and Hasan Ali leave PCB's WhatsApp group after being excluded from annual contract  Image Source : GETTY IMAGES

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर और हसन अली ने नए सालाना कॉन्ट्रैक्टस से बाहर होने के बाद पीसीबी का व्हाट्सएप ग्रुप को छोड़ दिया है। क्रिकेटपाकिस्तान डॉट कॉम की एक रिपोर्ट में टीम के सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पीसीबी द्वारा बनाए गए ग्रुप को खिलाड़ी द्वारा छोड़ना आसमान्य नहीं है। वहीं कॉन्ट्रैक्टस से बाहर किए गए वहाब रियाज अभी भी इस ग्रुप में बने हुए हैं।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने पिछले हफ्ते अपने नए सालाना कॉन्ट्रैक्ट का ऐलान किया था। इस कॉन्ट्रैक्ट में सरफराज को ग्रेड ए से बी में भेज दिया गया है। जबकि पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली, वहाब रियाज और मोहम्मद आमिर को सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया गया था। वहीं युवा तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी और अजहर अली को प्रोमोशन देकर ग्रेड बी से ए में लाया गया है। इतना ही नहीं पाकिस्तान टीम के नव नियुक्त कप्तान बाबर आजम को भी ग्रेड बी से ए में लाया गया है।

दूसरी तरफ उभरते हुए पाकिस्तानी खिलाड़ियों की बात करें तो हैदर अली, मोहम्मद हसनैन, हरिस रउफ और नसीम शाह को सेन्ट्रल कॉन्ट्रेक्ट के ग्रेड सी में लाया गया है। वहीं पाकिस्तान के टेस्ट क्रिकेट टीम के खिलाड़ी यासिर शाह का डिमोशन हुआ हो और उन्हें ग्रेड ए से बी में भेजा गया है। जबकि पूर्व कप्तान इंजमाम हल हक के भतीजे और पाकिस्तान टीम के सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक को भी ग्रेड बी से सी में भेजा गया है।

ये भी पढ़ें - 23 साल पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई अपनी इस पारी को सचिन ने बताया सबसे बेहतरीन

पिछले साल 2019 से लगातार खराब प्रदर्शन करने के कारण यासिर शाह को अब सरफराज अहमद, असद शफीक, हारिस सोहेल, मोहम्मद अब्बास और शादाब खान के साथ ग्रेड बी में डाल दिया गया है। जबकि तीन खिलाड़ी आबिद अली, मोहम्मद रिजवान, और शान मसूद को ग्रेड सी से बी में लाया गया है।

इस तरह ग्रेड बी वाले पाकिस्तानी खिलाड़ियों को 750,000 पाकिस्तानी रूपए और ग्रेड सी वाले खिलाड़ियों को 550,000 पाकिस्तानी रुपये सलाना कॉन्ट्रैक्ट के तौर पर दिया जाएगा। जिसमें नसीम और इफ्तिखार दो नए खिलाड़ियों की एंट्री हुई है। इसमें पहले से ही फखर जमां, इमाद वसीम, इमाम और उस्मान शेनवारी मौजूद हैं। जबकि ग्रेड ए वाले खिलाड़ियों को 1.1 मिलियन पाकिस्तानी रूपए सालाना कांट्रेक्ट के तौर पर मिलेंगे। जो कि 1 जुलाई 2020 से 31 जून 2021 तक मान्य होगा।

 



from India TV Hindi: sports Feed

No comments