Header Ads


Breaking News

Mansoon, Unlock, US-Sino Tension तय कर सकते हैं शेयर बाजार की चाल

नई दिल्ली़। भारतीय शेयर बाजार ( Indian Share Market ) बीते सप्ताह जोरदार लिवाली से गुलजार रहा, लेकिन इस सप्ताह बाजार की चाल मानसून ( Mansoon ) के रूख, देशव्यापी लॉकडाउन में ढील ( India Unlock ) , अमेरिका और चीन के बीच तनाव ( US-Sino Tension ) से वैश्विक बाजार में होने वाले उथल-पुथल, प्रमुख आर्थिक आंकड़े समेत कुछ अन्य कारकों से तय होगी। साथ ही, कोरोनावायरस के बढ़ते मामले से पैदा होने वाली चिंता का असर बाजार पर बना रहेगा। केंद्र सरकार ( Central Govt ) ने लॉकडाउन की समयसीमा सोमवार से पांचवीं बार बढ़ाने का फैसला लिया है, लेकिन इसमें पहले की अपेक्षा ढील दी गई है।

MHA के नये आदेश
गृह मंत्रालय के नये आदेश के अनुसार, पूरे देश में कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 30 जून तक जारी रहेगी, जबकि राज्य के भीतर और एक राज्य से दूसरे राज्य में लोगों और वस्तुओं का आवागमन पर कोई रोक नहीं होगी। सरकार ने तीन चरणों में लॉकडाउन में ढील देने का फैसला लिया है जिनमें अगले चरण में होटल, शॉपिंग मॉल आदि को भी आठ जून से खोलने की अनुमति होगी।

दो दिन पहले ही मानसून की दस्तक
उधर, निजी मौसम पूवार्नुमान कर्ता एजेंसी स्काइमेट के अनुसार, मानसून ने इस बार दो दिन पहले ही केरल तट पर दस्तक दे दिया है। हालांकि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग आईएमडी ने इसका खंडन किया है, लेकिन आईएमडी के अनुसार भी मानसून इस सप्ताह के आरंभ में ही दस्तक देगा। मानसून से देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था की गाड़ी चलती है, इसलिए इस पर बाजार और उद्योग सबकी नजर टिकी होती है।

अमेरिका और चीन तनाव, कच्चे तेल का भाव
इन सबके बीच अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते तनाव का असर वैश्विक बाजारों पर रहेगा, जिससे मिलने वाले संकेतों से घरेलू शेयर बाजार की चाल पर असर देखने को मिल सकता है। घरेलू शेयर बाजार की चाल तय करने में अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव और डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल की भी अहम भूमिका होगी। इसके अलावा, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों की निवेश के प्रति दिलचस्पी पर भी बाजार की नजर होगी।

जारी होंगे आर्थिक आंकड़े
सप्ताह के दौरान मई महीने के विनिर्माण एवं सेवा क्षेत्र के पीएमआई के आंकड़े भी जारी होंगे, जिस पर बाजार की नजर होगी। वहीं, ऑटो कंपनियां भी मई महीने की अपनी बिक्री के आंकड़े जारी करेंगी। अरबिंदो फार्मा और भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन की ओर से बीते वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही के वित्तीय नतीजे भी जारी किए जाएंगे, जिसपर निवेशकों की नजर होगी।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3eyPw5q

No comments

// //graizoah.com/afu.php?zoneid=3394670