Shani Jayanti 2020: नई नौकरी पाना चाहते हैं तो शनि जयंती के दिन सांयकाल करलें यह छोटा सा उपाय, शनिदेव होंगे प्रसन्न, साढ़े साती और ढैय्या से मिलेगी मुक्ति - Businessvistar.com | News - Breaking News, Latest News, Top Video News and Taaza Khabar

Header Ads


Breaking News

Shani Jayanti 2020: नई नौकरी पाना चाहते हैं तो शनि जयंती के दिन सांयकाल करलें यह छोटा सा उपाय, शनिदेव होंगे प्रसन्न, साढ़े साती और ढैय्या से मिलेगी मुक्ति


shani-jayanti-2020-do-these-astrological-measure-for-happiness-and-money
शनि जयंती Image Source : INSTRAGRAM/MANISHKEMM

आज ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि और शुक्रवार का दिन है | अमावस्या तिथि आज रात 11 बजकर 9 मिनट तक रहेगी |अमावस्या के दिन स्नान-दान और श्राद्ध आदि का बहुत महत्व है | अमावस्या के दिन स्नान-दान या श्राद्ध आदि करने से पुण्य फलों की प्राप्ति होती है, पितर प्रसन्न होते हैं और पितरों के आशीर्वाद से सारे काम पूरे होते हैं |  इसके साथ ही आज शनि जयंती भी है। इस दिन कुछ खास उपाय करके आप भगवान शनि को प्रसन्न कर सकते हैं।

इस दिन स्नान, दान, पूजा के साथ  कुछ विशेष उपाय करने से धन संबंधी क्षेत्र में शनिदेव की कृपा मिलेगी। आज के दिन कुछ विशेष उपाय करके आप नई नौकरी के साथ तरक्की भी पा सकते हैं। जानिए कौन से उपाय होंगे कारगर।

 नई नौकरी पाना चाहते हैं तो शनि जयंती के दिन सांयकाल में पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल के कम से कम नौ दीपक प्रज्वलित करें। इसके बाद पीपल के पेड़ के उतने ही अनुपात में परिक्रमा करें और शनिदेव से नौकरी परिवर्तन की प्रार्थना करें। इस उपाय से आपको अच्छी नौकरी मिलने के योग बनेंगी।
बिजनेस में बढ़ोत्तरी के लिए भी शनि जयंती का दिन बेहद लाभकारी है। इस दिन भगवान शनि का स्मरण करते हुए ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः का जाप करें और काले तिल अर्पण करें।

शनिदेव की साढ़ेसाती और ढैया वालों के लिए शनि जयंती का दिन विशेष है। इस दिन की पूजा-अर्चना से साढ़े साती और शनि की ढैया से ग्रसित लोग राहत पा सकते हैं और शनिदेव उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव कर सकते हैं। शनि अमावस्या के दिन शनिदेव की विधिवत पूजा अर्चना करें। शाम को पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और घर आकर कम से कम 11 माला "ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः" का जाप करें।

शिक्षा में सफलता पाने के लिए आज पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और घर लौट आएं। इस दिन चींटियों को आटा खिलाना भी शुभ माना जाता है।

आज के दिन शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए एक बर्तन में सरसों का तेल लें और उसमें अपना चेहरा देखकर इसे तेल को दान कर दें।


from India TV Hindi: lifestyle Feed https://ift.tt/3bWiH0q

No comments