Header Ads


Breaking News

आपकी जेब पर भारी पड़ सकता है एक से ज्यादा Bank Account होना, जानें कैसे कर सकते हैं बंद

नई दिल्ली- आजकल हर नौकरी को बदलने के साथ एक नया बैंक अकाउंट खुलवाना पड़ता है और इस प्रोसेस में कई सारे अकाउंट्स हो जाते हैं । यहां तक कि कई बार तो लोग पुराने अकाउंट्स को बंद कराने की जरूरत भी नहीं समझते लेकिन वहीं आपको सबसे ज्यादा नुकसान कर सकता है। अगर आपका भी एक से ज्यादा खाता है और वह निष्क्रिय हो गया है तो उन्हें बंद करा दीजिए. नहीं तो आने वाले समय में बड़ा नुकसान हो सकता है। आपको नुकसान हो उससे पहले मल्टीपल अकाउंट्स ( Multiple Bank Acounts ) के बारे में कुछ नियम जान लें-

नहीं गंवानी है अपनी जिंदगीभर की कमाई, ATM कार्ड इस्तेमाल करते वक्त भूल कर न करें ये काम

  • सैलरी अकाउंट ( salaried account ) में अगर 3 महीने तक सैलरी नहीं आती है तो बैंक उसे सेविंग अकाउंट में बदल देता है। सेविंग अकाउंट में तब्दील होने से खाते को लेकर बैंक के नियम बदल जाते हैं। दरअसल बैंक के नियम के मुताबिक, सेविंग अकाउंट में एक न्यूनतम राशि मेनटेन करनी जरूरी है। अगर, आप आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आपको पेनॉल्टी देनी पड़ सकती है। कई बार आपके खाते में आने वाली रकम से ये पेनॉल्टी काट ली जाती है।
  • आपके खाते में न्यूनतम बैलेंस मेनटेन नहीं होने से क्रेडिट स्कोर खराब होता है। इसलिए कभी भी निष्क्रिय खाते को हल्के में न लें और नौकरी छोड़ने के साथ ही उस खाते को बंद करा दें।
  • एक से ज्यादा बैंक अकाउंट होने की सूरत में टैक्स जमा करने में बेकार का टाइम जाया होता है। क्‍सर उनके स्टेटमेंट का रिकॉर्ड जुटाना काफी पेचीदा काम हो जाता है

कैसे कराएं बंद- खाता बंद करवाने ( bank account closing procedure ) के लिए अपने बैंक ब्रांच में जाकर क्लोजर फॉर्म और डी-लिंकिंग फॉर्म भरना होगा। अकाउंट बंद कराने ब्रांच में जाएं, तो साथ में काम में नहीं आई हुई चेक बुक, क्रेडिट कार्ड व डेबिट कार्ड भी साथ लेकर जाएं, क्योंकि इन्हें बैंक में जमा कराना होता है। इसके लिए अलग अलग बैंक फीस लेते हैं तो आपको फीस अपने बैंक से पता करनी होगी।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3gJu2EX

No comments

// //graizoah.com/afu.php?zoneid=3394670