Header Ads


Breaking News

CMIE Report : मई के महीने में Employment के मोर्चे पर मामूली राहत, 2 करोड़ से ज्यादा काम पर लौटे

नई दिल्ली। जहां एक ओर केंद्र सरकार ( Central Govt ) को इकोनॉमी के मोर्चे पर लगातार झटके लग रहे हैं, वहीं दूसरी ओर रोजगार मोर्च ( Employment Front ) पर बेहद मामूली सी राहत दी है। सेंटर फोर मोनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी ( Center for Monitoring Indian Economy ) की रिपोर्ट के अनुसार अप्रैल के मुकाबले मई में बेरोजगारी दर ( Unemployment Rate ) में 0.04 फीसदी का सुधार देखने को मिला है। मई की पहले सप्ताह की रिपोर्ट में भी में सुधार देखने को मिला था। वहीं सरकार की ओर से कोर सेक्टर और जीडीपी के आंकड़े भी पेश किए थे, जिसमें कोरोना वायरस की वजह से देश की इकोनॉमी 11 साल के निचने स्तर पर चली गई है।

Loan Moratorium Extension : HDFC और Axis Bank ने दी Customers को EMI से राहत

बेरोजगारी दर में मामूली सुधार
सेंटर फोर मोनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी की रिपोर्ट के अनुसार देश में मई में बेरोजगारी दर में सुधार होते हुए 23.48 फीसदी पर आ गया है। जबकि अप्रैल के महीने में देश की बेरोजगारी दर 23.52 फीसदी पर थी। रिपोर्ट के अनुसार देश में मई के महीने में 2.1 करोड़ लोग अपने काम पर जा चुके हैं। आपको बता दें कि सीएमआई की मई के पहले हफ्ते की भी रिपोर्ट आई थी, जिसमें भी राहत के आंकड़े दिखाए गए थे।

Delhi-NCR में CNG हुई महंगी, Air Fuel में करीब 50 फीसदी का इजाफा

इकोनॉमी की भयावह स्थिति
सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही में भारत का सकल घरेलू उत्पाद गिरकर 3.1 फीसदी रहा। जबकि तीसरी तिमाही में यह 4.1 फीसदी रहा था। वित्त वर्ष 2020 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद गिरकर 4.2 फीसदी पर आ गया। जबकि वित्त वर्ष 2019 में यह 6.1 प्रतिशत था। आने वाले दिनों में आंकड़ें और खराब हो सकते हैं।

Moodys ने भारत को दिया बड़ा झटका, 22 साल के बाद कम की Sovereign Rating

भारत का कोर इंडस्ट्री सेक्टर अप्रैल में 38 फीसदी गिरा
भारत के आठ प्रमुख उद्योगों के उत्पादन में कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन के चलते अप्रैल 2020 में 38 प्रतिशत से अधिक की गिरावट दर्ज की गई। अनुक्रमिक आधार पर आठ प्रमुख उद्योंगों का सूचकांक मार्च 2020 में नौ प्रतिशत तक नीचे चला गया। आठ प्रमुख उद्योगों में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफायनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली शामिल हैं।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2XYSkSS

No comments

// //graizoah.com/afu.php?zoneid=3394670