Header Ads


Breaking News

सरकार के Economic Package का सिर्फ 10 फीसदी ही लोगों के हाथों में पहुंचा: Rajiv Bajaj

नई दिल्ली। देश के जाने-माने बिजनेसमैन राजीव बजाज ( Rajiv Bajaj ) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) से वीडियो कांफ्रेंसिंग पर बात करते हुए कहा कि सरकार की ओर से जिस आर्थिक पैकेज ( Economic Package ) का ऐलान किया है वो सिर्फ 10 फीसदी की लोगों के हाथों में पहुंचा है। उन्होंने लॉकडाउन ( Lockdown ) और इकोनॉमी ( Economy ) पर कहा कि देश में सख्त लॉकडाउन करने के बाद भी कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का खात्मा नहीं हुआ, लेकिन इकोनॉमी जरूर र्बबाद हो गई। उन्होंने कहा केक देश में लोग सच बोलने से डरते हैं। ऐसे में देश में कुछ चीजों में सुधार लाने की काफी जरुरत है। ताकि देश में लोग सहिष्णु और संवेदनशील हो सके।

आर्थिक पैकेज पर राजीव बजाज
राजीव बजाज ने राहुल गांधी से बात करते हुए कहा कि देश की केंद्र सरकार की ओर से घोषित आर्थिक पैकेज की घोषणा की है। यह आर्थिक पैकेज 20 लाख करोड़ रुपए का है। जिसके बाद देश की वित्त मंत्री र्निमला सीतारमण और बाकी मंत्री समय-समय पर इस पैकेज के रोडमैप के बारे में बताते गए। वहीं राजीव बजाज ने कहा कि दुनिया के कई देशों में जो सरकारों ने आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है, उनमें से दो तिहाई लोगों के हाथ में वो पैकेज गया है। जबकि भारत में सिर्फ 10 फीसदी ही लोगों के हाथ में गया है।

Amrapali Projects को पूरा कराने SBI और UCO Bank आए सामने, जल्द शुरू हो सकता है काम

लॉकडाउन पर उठाए सवाल
राहुल गांधी के कोरोना वायरस लॉकडाउन से जुड़े सवाल पर राजीव बजाज ने कड़ा रुख अपनाया और तीखे तेवर दिखाए। उन्होंने इस संबंध में कहा कि दुर्भाग्यवश देश ने पश्चिम खासकर सुदूर पश्चिम की तरफ देखा ना कि पूर्व की तरफ। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से कठोर लॉकडाउन लागू करने का प्रयास किया। इस लॉकडाउन में कई तरह की थीं। जिसकी वजह से देश से कोराना वायरस का खत्मा हुआ, इसके विपरीत अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बर्बाइ हो गई।

Coronavirus Lockdown: जरूरी सामान पर लोगों की जेब हुई ज्यादा ढीली, जानिए कितने ज्यादा चुकाने पड़े दाम

राजीव की पीएम को सलाह
राजीव बजाज ने कहा कि सबसे पहले लोगों के दिमाग से कोरोना वायरस के डर को निकालने की बेहद जरुरत है। सभी समस्याओं की पहली जड़ ही यही है, इस बारे में देश के प्रधानमंत्री से लेकर देश के तमाम केंद्रीय मंत्रियों तक को देश के आम लोगों से संवाद करने की जरुरत है। उन्होंने देश की जनता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुनती है। उन्हें देश के लोगों के साथ सीधा संवाद कर कहने की जरुरत हैं कि देश के लोगों को डरने की जरुरत नहीं है, सबकुछ नियंत्रण में है देश आगे बढ़ रहा है वायरस से डरने की जरुरत नहीं है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3ePbyRE

No comments

// //graizoah.com/afu.php?zoneid=3394670