Header Ads

वकील का आरोप-मुंबई पुलिस नहीं दर्ज कर रही थी एफआईआर, चार महीने पहले पिता ने पुलिस को रिया के बारे में किया था आगाह

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उनके परिवार के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर इस मामले को अलग रुख देने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस इस मामले में पूरी तरह से सहियोग नहीं कर रही थी। मुंबई में एफआईआर दर्ज नहीं की गई इसलिए यह केस पटना में हुआ है।

उन्होंने यह भी खुलासा किया है कि सुशांत की मौत से 4 महीने पहले उनके पिता ने बांद्रा पुलिस के डीसीपी को रिया द्वारा सुशांत को परेशाना करने की जानकारी दी थी, लेकिन पुलिस ने इस मामले में कोई कदम नहीं उठाया।

इस क्राइम के लिए रिया ने लंबी प्लानिंग की थी
उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि रिया, सुशांत के माइंड पर कंट्रोल कर रही थी और वह उनके परिवार से अभिनेता की बात नहीं करवाती थी। उसने पूरे परिवार को सुशांत से अलग कर दिया था। इस क्राइम में रिया की लंबी प्लानिंग थी। वह सारी मेडिकल फाइल लेकर चली गई थी। जब वह सबसे कमजोर थे तब रिया ने उनका फोन ब्लॉक कर दिया था।

मुंबई पुलिस नहीं दर्ज कर रही थी एफआईआर
सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, "परिवार को एफआईआर दर्ज करने में डेढ़ महीने इसलिए लगे क्योंकि परिवार शोक में था और मुंबई पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही थी। मुंबई पुलिस परिवार पर ये दबाव डाल रही थी कि आप बड़े-बड़े प्रोडक्शन हाउस का नाम दें।" उन्होंने आरोप लगाया कि मुंबई पुलिस इस जांच को दूसरी दिशा में ले जा रही है।

परिवार चाहता था कि पटना पुलिस पूरे मामले की जांच करे
उन्होंने कहा,"पटना में जब हम एफआईआर दर्ज कराने गए तो पुलिस को एफआईआर दर्ज करने में परेशानी थी। हम चाहते हैं कि पटना पुलिस पूरे मामले की जांच करे। विकास सिंह ने इस मामले में नितीश कुमार को धन्यवाद कहा है। इशारों में उन्होंने यह कहा कि यह केस उनके निर्देश पर ही दर्ज हुआ है।

बिहार पुलिस ने नहीं दिया रिया को पूछताछ का नोटिस
इस मामले में पटना सिटी एसपी विनय तिवारी ने कहा है, 'एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है। अभी यह नहीं कहा जा सकता कि किनसे पूछताछ होगी। सुशांत के पिता ने जिनका भी नाम दिया, उनके खिलाफ केस दर्ज हुआ है।" उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि अभी तक किसी को भी पूछताछ का नोटिस नहीं दिया गया है।

इन धाराओं में दर्ज हुआ केस
सुशांत के पिता की शिकायत पर पटना के राजीव नगर पुलिस ने धारा 341, 342, 280, 420, 406, 420 और 306 के तहत रिया और उसके परिजन समेत छह लोगों को आरोपी बनाया है। इसी के साथ पटना से चार पुलिसवालों की टीम मुंबई पहुंच गई है। पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने इसकी पुष्टि की है। परिजन के साथ ही एलजेपी नेता चिराग पासवान ने सीबीआई से कराने की मांग की है।

सीबीआई जांच जरुरी है इस मामले में: सुब्रमण्यम स्वामी
इसी बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि अगर बिहार पुलिस सुशांत सिंह राजपूत की अप्राकृतिक मौत की जांच में कहने को लेकर गंभीर है, तो सीबीआई जांच का कोई विकल्प नहीं है। डॉ. स्वामी ने एक ट्वीट में कहा कि सीबीआई जांच अपरिहार्य है क्योंकि "दो राज्यों की पुलिस एक ही अपराध की अलग से जांच नहीं कर सकती है।"

सुशांत पिता के 7 सवाल

-सुशांत को 2019 के पहले तक कोई भी दिमागी बीमारी नहीं थी। रिया के संपर्क में आने के बाद अचानक मानसिक रूप से बीमार कैसे हो गया?
-यदि उसका इलाज चल रहा था, तो हमसे लिखित या मौखिक मंजूरी क्यों नहीं ली गई, जो जरूरी है?
-रिया के साथ सुशांत का इलाज करने वाले डॉक्टर ने क्या दवाएं दी, वह भी इस साजिश में शामिल है?
-मानसिक हालत नाजुक होने पर रिया ने उसका ठीक से इलाज क्यों नहीं कराया, वह सारे पर्चे साथ क्यों ले गई?
-सुशांत के एक बैंक खाते में 17 करोड़ रुपए थे, जिनमें से सालभर में करीब 15 करोड़ निकाल लिए गए, ये पैसे किन खातों में गए?
-सुशांत बॉलीवुड में नाम कमा चुके थे। ऐसा क्या हुआ कि रिया के आने के बाद उसे फिल्में ही मिलना बंद हो गई?
-दोस्त महेश के साथ सुशांत ऑर्गेनिक खेती के लिए केरल में जमीन देख रहा था, तब रिया ने उसे रोकने के लिए ब्लैकमेल किया?

रिया, भंसाली, आदित्य चोपड़ा समेत कई हस्तियों से पूछताछ
सुशांत मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती, संजना सांघी, मुकेश छाबड़ा, आदित्‍य चोपड़ा, कास्‍टिंग डायरेक्‍टर शानू शर्मा, संजय लीला भंसाली, शेखर कपूर, महेश भट्ट, रूमी जाफरी जैसे बड़े नामों से पूछताछ हो चुकी है। बता दें पटना के रहने वाले सुशांत मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में 14 जून को मृत मिले थे। उनकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में अभिनेता की माैत फांसी के कारण दम घुटने से हाेने की बात सामने अाई थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
14 जून को सुशांत सिंह राजपूत ने बांद्रा के एक फ्लैट में फांसी लगाकार जान दे दी थी। इनसेट में आरोप लगाने वाले वकील विकास सिंह।


from Dainik Bhaskar

No comments

Powered by Blogger.