Header Ads

नेता सीमान और उनके समर्थकों से परेशान तमिल एक्ट्रेस विजयालक्ष्मी ने की जान देने की कोशिश, इससे पहले वीडियो में सुनाई आपबीती

तमिल और मलयालम फिल्मों की एक्ट्रेस विजयालक्ष्मी को आत्महत्या के प्रयास के बाद चेन्नई के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है। एक्ट्रेस का दावा है कि उन्होंने यह कदम नाम तमिलार पार्टी और इसके नेता सीमान के फॉलोअर्स द्वारा सोशल मीडिया पर छींटाकशी से परेशान होकर उठाया। उन्होंने पॉलिटिशियन हरि नाडर पर भी उन्हें यह कदम उठाने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है।

सुसाइड अटेंप्ट से पहले वीडियो शेयर किया

एक्ट्रेस ने सुसाइड अटेंप्ट से पहले रविवार शाम करीब 4 बजे फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसके कैप्शन में लिखा था, "मेरा आखिरी वीडियो। अलविदा मेरे प्यारे दोस्तों और शुभचिंतकों।" मीडिया में खबर आने के बाद सोशल मीडिया से एक्ट्रेस का वीडियो हटा दिया गया है और उनकी प्रोफाइल लॉक कर दी गई है।

वीडियो में विजयालक्ष्मी ने जो कहा-

यह मेरा आखिरी वीडियो है। मैं पिछले चार महीनों से सीमान और उनके पार्टी कार्यकर्ताओं की वजह से जबरदस्त तनाव में हूं। अपनी मां और बहन की वजह से मैंने सर्वाइव करने की बहुत कोशिश की। लेकिन हाल ही में हरि नाडर द्वारा मीडिया में मुझे अपमानित किया गया। मैं बीपी की गोलियां ले चुकी हूं और कुछ ही समय में मेरा ब्लड प्रेशर लो हो जाएगा और कुछ घंटों में मैं मर जाऊंगी।

जो यह वीडियो देख रहे हैं, मैं उन फैन्स को बताना चाहती हूं कि सिर्फ कर्नाटक में पैदा होने की वजह से सीमान ने मुझे प्रताड़ित किया। महिला होने के नाते मैंने यह सब बर्दाश्त करने की बहुत कोशिश की। लेकिन अब मुझसे यह दबाव सहा नहीं जा रहा है। मैं पिल्लई समुदाय से हूं। यह वही समुदाय है, जिससे लिट्टे (एलटीटीई) के नेता प्रभाकरण भी हैं।

सीमान आज जो है, वो प्रभाकरण की बदौलत ही है। लेकिन अब वह लगातार सोशल मीडिया पर मेरा हरेसमेंट कर रहा है। तुमने मुझे दर्द का अहसास कराने के लिए शर्मिंदा किया और अब यह मुझे तय करना है कि तुम्हारे द्वारा इस तरह अपमानित होने के बाद मुझे क्या करना है? मैं अपने फैन्स से अपील करती हूं कि सीमान को इस केस से भागने मत देना। उसे कभी भी अग्रिम जमानत नहीं मिलनी चाहिए। मेरी मौत सभी के लिए आंख खोलने वाली होनी चाहिए।

पहले भी सुसाइड की कोशिश कर चुकी हैं विजयालक्ष्मी

रिपोर्ट्स की मानें तो विजयालक्ष्मी कुछ सालों से चेन्नई में रह रही हैं। कथित तौर पर 2006 में उन्होंने नींद की गोलियों का ओवरडोज लेकर खुदकुशी करने की कोशिश की थी। तब उन्होंने यह कदम एक असिस्टेंट डायरेक्टर से परेशान होकर उठाया था, जो उनसे शादी करना चाहता था। यह वही साल था, जब एक्ट्रेस के पिता की मौत हुई थी।

विजयालक्ष्मी ने तमिल में 2008 में आर. माधवन के अपोजिट 'वाज्तुगल' (Vaazhthugal), 2003 में सत्यराज के अपोजिट 'रामचंद्र' और कन्नड़ में मोहनलाल के साथ 2000 में 'देवदूतम' जैसी फिल्मों में काम किया है। 2017 में उनकी आखिरी तमिल फिल्म 'मीसाया मुरुक्कू' रिलीज हुई थी। वहीं, कन्नड़ में वे आखिरी बार 'फाइट' (2018) में नजर आई थीं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
विजयालक्ष्मी के वीडियो के मुताबिक, उन्होंने बीपी की गोलियों का ओवरडोज लेकर सुसाइड की कोशिश की।


from Dainik Bhaskar

No comments

Powered by Blogger.