Header Ads

'वह वास्तव में अच्छे लीडर हो सकते थे', इस पूर्व भारतीय बल्लेबाज के बारे में बोले इरफान पठान

'He should have captained the Indian team for longer', said Irfan Pathan about this former Indian batsman Image Source : GETTY IMAGES

भारत के सबसे सफल कप्तानों की अगर बात होती है तो उसमें सौरव गांगुली और महेंद्र सिंह धोनी का नाम सबसे ऊपर आता है। इन दोनों खिलाड़ियों ने देश-विदेश में टीम इंडिया को कई बड़ी सीरीज जीताई। वहीं धोनी ने तो भारत को दो वर्ल्ड कप भी जिताए। इन दोनों खिलाड़ियों की कप्तानी तो दुनिया ने देखी, लेकिन भारतीय टीम में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी थे जिनमें टीम इंडिया की कमान संभालने की काबलियत तो थी, लेकिन उन्हें ज्यादा मैचों में कप्तान बनने का मौका नहीं मिला।

हाल ही में भारतीय पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने भी एक ऐसे ही खिलाड़ी का नाम बताया है जिसे भारत के लिए लंबे समय तक कप्तानी करनी चाहिए थी। ये खिलाड़ी और कोई नहीं बल्कि भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर हैं। जी हां, पठान का मानना है कि गंभीर एक बेहतरीन लीडर थे और उन्हें लंबे समय तक टीम की कप्तानी करनी चाहिए थी।

क्रिकेट डॉट कॉम को दिए एक इंटरव्यू में इरफान पठान ने कहा "लोग राहुल द्रविड़ के बारे में बहुत बात करते हैं। कुछ ऐसे लोग भी है जो उनके बारे में बात नहीं करते तो क्या वो उन्हें पसंद नहीं करते? नहीं, द्रविड़ की कप्तानी में भारत ने  रनों का पीछा करते हुए लगातार 16 मैच जीते हैं। कभी-कभी वह लपेटे में आ जाते हैं।"

ये भी पढ़ें - इस वजह से एबी डी विलियर्स समेत ये खिलाड़ी मिस कर सकते हैं आईपीएल 2020 के शुरुआती मैच!

इसके आगे उन्होंने कहा "विजयी कप्तान के रूप में, परिणाम निकालने वाले कप्तान के रूप में और जो निशकर्श निकालता है, जिसके पास अच्छी टीम थी वो है महेंद्र सिंह धोनी।"

पठान ने कहा "मैं सौरव गांगुली का भी सम्मान करता हूं, मैं राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले की कप्तानी का भी सम्मान करता हूं और मुझे लगता है कि गौतम गंभीर को भारतीय टीम की और कप्तानी करनी चाहिए थी जितनी उन्होंने की थी। वह वास्तव में अच्छे लीडर हो सकते थे।"

गौतम गंभीर का नाम उन भारतीय खिलाड़ियों की सूची में शामिल है जिन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को एक भी मैच नहीं हराया। जी हां, गंभीर ने भारत के लिए कुल 6 वनडे मैच में कप्तनी की है। धोनी की गैरमौजूदगी में न्यूजीलैंड के खिलाफ 2010 में खेली गई 5 मैच की वनडे सीरीज के साथ गंभीर वेस्टइंडीज के खिलाफ 2011 में एक मैच के लिए कप्तान बने थे। गंभीर ने अपनी कप्तानी में सभी 6 मैच जीते। इस दौरान उन्होंने बल्ले से भी खूब रन बनाए। इन 6 मैचों में गंभीर ने 90 की औसत से 360 रन जड़े थे।

उन्होंने कहा "मैं वास्तव में विराट कोहली और रोहित शर्मा की प्रशंसा करता हूं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं महेंद्र सिंह धोनी की गुणवत्ता की प्रशंसा नहीं करता हूं।"



from India TV Hindi: sports Feed

No comments

Powered by Blogger.