Header Ads

वनडे टीम में वापसी करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं अजिंक्य रहाणे

वनडे टीम में वापसी करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं अजिंक्य रहाणे Image Source : GETTY IMAGES

भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे का मानना है कि वह टीम के लिए एक फॉर्मेट से ज्यादा के खिलाड़ी साबित हो सकते हैं और वह सीमित फॉर्मेट में वापसी करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत में अजिंक्य रहाणे ने कहा कि लिमिटेड फॉर्मेट से बाहर किए जाने से पहले उनका पिछले 3-4 वर्षों में वनडे मैचों में अच्छा रिकॉर्ड रहा। रहाणे 2019 विश्व कप टीम का हिस्सा नहीं थे और उन्होंने आखिरी बार फरवरी 2018 में वनडे मैच खेला था।

रहाणे ने कहा, "मुझे लगता है कि मेरा पहला लक्ष्य वनडे क्रिकेट में वापसी करने का है। मैं आम तौर पर अपने रिकॉर्ड के बारे में बात नहीं करता हूं, लेकिन मुझे लगता है कि वनडे टीम से बाहर किए जाने से पहले मेरा रिकॉर्ड पिछले 3-4 वर्षों में अच्छा रहा।"

उन्होंने कहा, "चाहे ओपनिंग करने की बात हो या नंबर 4 पर उतरने की, मेरा रिकॉर्ड बहुत अच्छा रहा, मेरा स्ट्राइक रेट भी बहुत अच्छा था। मुझे लगता है कि मेरा पहला लक्ष्य वनडे सेट-अप में वापस आना है। मुझे पता नहीं कि ये मौका कब आएगा। लेकिन मुझे कड़ी मेहनत करनी है। मैं सभी पहलुओं पर वास्तव में कड़ी मेहनत कर रहा हूं। मैं वास्तव में खुद के बारे में आश्वस्त हूं। यह खुद में विश्वास करने, सकारात्मक होने और निर्भीक होने के बारे में है।"

रहाणे ने कहा कि वह आईपीएल 2020 में दिल्ली कैपिटल की ओर से अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद कर रहे हैं, लेकिन उन पर खुद को साबित करने का दबाव नहीं है। रहाणे ने कहा कि वह आगामी टूर्नामेंट में कैपिटल के लिए योगदान करने की मंशा के साथ खेलने की योजना बना रहे हैं।

उन्होंने कहा, "मुझे किसी को साबित करने की जरूरत नहीं है। हां, आईपीएल सबसे अच्छा मंच है। मुझे किसी को साबित करने की जरूरत नहीं है। मुझे बस खुल के खेलना और अपनी टीम के लिए अच्छा करना है। मैं अपने खेल पर कड़ी मेहनत कर रहा हूं और दिन-प्रतिदिन सुधार कर रहा हूं।"



from India TV Hindi: sports Feed

No comments

Powered by Blogger.