Header Ads

राहुल द्रविड़ ने माना, अक्टूबर में कोरोना की ज्यादा मार झेलेगा भारतीय क्रिकेट

राहुल द्रविड़ ने माना, अक्टूबर में कोरोना की ज्यादा मार झेलेगा भारतीय क्रिकेट Image Source : GETTY

राहुल द्रविड़ ने कहा है कि भारतीय क्रिकेट पर COVID -19 महामारी का असली प्रभाव अक्टूबर में महसूस किया जाएगा, जब देश के जूनियर और महिला क्रिकेटरों का घरेलू सत्र शुरू होगा।  सभी राज्य संघों की तरह, जिन्होंने अपने टूर्नामेंटों को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है या रद्द कर दिया है, एनसीए को भी देशव्यापी लॉकडाउन के बाद अपना संचालन फिर से शुरू करना है। 

डेक्कन हेराल्ड द्वारा आयोजित एक वेबिनार में द्रविड़ ने कहा कि हम अब तक भाग्यशाली रहे हैं (कोरोना महामारी बीसीसीआई के घरेलू सत्र के अंत में मार्च में शुरू हुई), लेकिन अक्टूबर आते-आते चीजें तनावपूर्ण हो सकती हैं।

द्रविड़ ने कहा, "कुछ अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट रद्द कर दिए गए।लोग हमेशा उनके लिए समय और स्थान हासिल कर सकते हैं, लेकिन अक्टूबर के आते ही मुझे लगता है कि यह महामारी और भी ज्यादा असर डालेगी। अगले घरेलू सीजन में हमारे बहुत से युवा घरेलू खिलाड़ी हैं जिनमें जूनियर्स, अंडर -16, अंडर -19 और महिला क्रिकेटर्स शामिल हैं। ये घरेलू सीजन अक्टूबर से शुरू होता हैं।"

उन्होंने कहा, "अगर हम तब तक सामान्य स्थिति लाने में सक्षम नहीं हुए, तो इसमें अधिक समय लग सकता है। इसके बाद हमें अपने घरेलू क्रिकेट और जमीनी स्तर के क्रिकेट पर वास्तविक प्रभाव देखने को मिलेगा। ये साल किसी 23-24 साल के खिलाड़ी की तुलना में अंडर-19 के खिलाड़ी के लिए अधिक महत्वपूर्ण है।"

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि बीसीसीआई को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि वह कौन से टूर्नामेंट की मेजबानी करना चाहता है क्योंकि इस साल पूर्ण घरेलू सत्र की ज्यादा संभावना नहीं है। द्रविड़ ने इससे पहले कहा था कि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड जिस बायो-सिक्योर माहौल में मैचों का आयोजन कर रहा है, वह कई देशों में संभव नहीं है।



from India TV Hindi: sports Feed

No comments

Powered by Blogger.